5टॉप बल्लेबाज सबसे ज्यादा गेंदों का सामना टेस्ट क्रिकेट में

मुंबई

टेस्ट क्रिकेट में बल्लेबाज के धैर्य और संयम की परीक्षा होती है। यहां क्रीज पर अधिक से अधिक समय बिताना और गेंदबाज को थकाकर रन बनाने के अवसर जुटाने की परंपरा रही है। टेस्ट क्रिकेट को किसी बल्लेबाज की तकनीक की असली कसौटी माना जाता है। तो एक नजर डालते हैं टेस्ट क्रिकेट में सबसे गेंदों का सामना करने वाले क्रिकेटरों पर…

एलन बॉर्डर (ऑस्ट्रेलिया)
टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा गेंद खेलने की बात करें तो ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान एलन बॉर्डर इस सूची में पांचवें नंबर पर हैं। बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज ने 156 टेस्ट मैच खेले और 27002 गेंदों का सामना किया। वह बॉर्डर ही थे जिनकी कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया ने दुनिया की सबसे घातक टीम बनने का सफर शुरू किया। उनकी कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया ने 1995 में वेस्टइंडीज में टेस्ट सीरीज जीती जिसे पावर एक्सचेंज के तौर पर देखा गया बॉर्डर ने टेस्ट में 50.6 के औसत से 11174 रन बनाए। उन्होंने 27 सेंचुरी और 63 हाफ सेंचुरी लगाई। बॉर्डर की कप्तानी में ही 1987 में ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को हराकर अपना पहला वर्ल्ड कप खिताब भी जीता था।

शिवनारायण चंद्रपॉल (वेस्टइंडीज)
उनका बल्लेबाजी स्टांस काफी अलग था। कई बार यह समझ नहीं आता था कि गेंद कहां से आने वाली है। वेस्टइंडीज के इस पूर्व बल्लेबाज ने 164 टेस्ट मैचों में टीम का प्रतिनिधित्व किया। गयाना ने इस बल्लेबाज ने 51.37 के औसत से 11867 रन बनाए। उन्होंने अपने टेस्ट करियर में 27395 गेंदों का सामना किया। उन्होंने 30 सेंचुरी और 66 हाफ सेंचुरी लगाईं।

जैक कालिस (साउथ अफ्रीका)
गेंद और बल्ले दोनों से महान खिलाड़ी। साउथ अफ्रीका के इस ऑलराउंडर को दुनिया के बेस्ट क्रिकेटरों में गिना जाता है। कालिस ने 166 टेस्ट मैच खेले और 13289 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने 28903 गेंदों का सामना किया। वह इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर हैं। कालिस ने 55.37 के औसत से रन बनाए। उन्होंने 45 टेस्ट शतक लगाए और 58 हाफ सेंचुरी जड़ीं।

सचिन तेंडुलकर (भारत)
दुनिया के महानतम बल्लेबाजों में शुमार सचिन तेंडुलकर ने रेकॉर्ड 200 टेस्ट मैच खेले। सचिन ने टेस्ट मैचों में 15921 रन बनाए। सचिन ने 29437 गेंदों का सामना किया। वह इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर हैं। सचिन ने 51 शतक और 68 अर्धशतक लगाए। सचिन ने अपने टेस्ट करियर में 53.79 के औसत से रन बनाए।

राहुल द्रविड़ (भारत)
'द वॉल' के नाम से मशहूर राहुल द्रविड़ के नाम टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में सबसे ज्यादा गेंदों का सामना करने का रेकॉर्ड है। वह इकलौते बल्लेबाज हैं जिन्होने 30000 से अधिक गेंदों का सामना किया है। बेहतरीन तकनीक और गजब का धैर्य राहुल द्रविड़ की खूबी रहे। द्रविड़ ने 164 टेस्ट मैचों में 52.31 के औसत से 13288 रन बनाए। द्रविड़ ने इस दौरान रेकॉर्ड 31258 गेंदों का सामना किया। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 36 सेंचुरी और 63 हाफ सेंचुरी लगाई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here