जिस गरीब को खाना दे रहे थे, उसी से हो गया इश्क

कानपुर
समय चक्र की चाल सचमुच कब क्या गुल खिला दे पता ही नहीं चलता। लॉकडाउन की बंदिशों के चलते जहां हजारों लोगों ने अपनी शादी की डेट टाल दी वहीं कानपुर में इसी लॉकडाउन की वजह से एक गरीब लाचार लड़की की शादी हो गई। गरीबी की वजह से फुटपाथ पर भिखारियों के साथ बैठी लड़की को जो युवक खाना बांटने आ रहा था उसी युवक ने उसकी मांग भरकर उसे अपनी दुल्हन बना लिया। कानपुर में हुई यह शादी मौजूदा समय में सोशल मीडिया की सुर्खियां बन गई है और विवाह का वीडियो खूब वायरल हो रहा है।

जानकारी के मुताबिक, कोरोना महामारी के बीच कानपुर के एक प्रॉपर्टी डीलर लालता प्रसाद की मुलाकात नीलम से हुई तो उन्होंने अपने ड्राइवर अनिल से कहा कि रोज नीलम समेत दूसरे गरीबों तक खाना पहुंचाएं। अनिल जब दिन में खाना बांटकर आता था तो नीलम की चर्चा प्रॉपर्टी डीलर से करता था। इस पर वह (लालता ) उसकी भावनाएं समझ गए उन्होंने उससे समझाया कि दिन में खाना तो तुम उसे दे आते हो रात में क्या खाएगी। इसके बाद अनिल रात में खुद खाना बनाकर कई दिनों तक नीलम को देने जाने लगा। इसके बाद लालता प्रसाद ने अनिल के पिता को शादी के लिए राजी किया और वरमाला की मंजिल तक दोनों को पहुंचा दिया। बुधवार को भगवान बुद्ध के आश्रम में नीलम की बेजान दुनिया आबाद हो गई। इस शादी में सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए कई सामजिक लोगों ने शामिल होकर वर-वधु को आशीर्वाद दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here