30 हजार से कम वेतन वालों को रिलायंस इंडस्ट्रीज कंपनी महीने में दो बार देगी सैलरी!

मुंबई

कोरोना वायरस की वजह से तमाम सरकारी और गैर-सरकारी कंपनियां संकट में है. इस संकट का सामना करते हुए रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने बड़ा फैसला लिया है, जो कि दूसरी कंपनियों के लिए भी एक सीख है.

पूरे देश में लॉकडाउन की स्थिति को देखते हुए रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने कई बड़े ऐलान किए हैं. उसमें से एक कंपनी के ऐसे कर्मचारियों से जुड़ा है, जिनकी सैलरी 30 हजार रुपये से कम है. उन्हें महीने में दो बार वेतन दिया जाएगा.

'इमरजेंसी में कैश की कमी नहीं होगी'
दरअसल मंगलवार रात 12 बजे से देश में लॉकडाउन लागू कर दिया गया है और अगले 21 दिन तक देश में यही स्थिति रहेगी. मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज ने एक बयान में कहा, 'हर महीने 30,000 रुपये से कम कमाने वालों के लिए, उनके कैशफ्लो को बचाने और किसी भी भारी वित्तीय बोझ को कम करने के लिए कंपनी ने उनकी सैलरी दो हिस्सों में देने का फैसला किया है,'

कंपनी ने कहा कि कोरोना वायरस की वजह से लोग घरों से बाहर नहीं निकल पाएंगे और ऐसी स्थिति में कर्मचारियों को नकदी की किल्लत हो सकती है. इसलिए उन्हें सैलरी दो हिस्सों में दी जाएगी. जिससे उनका कैश फ्लो बना रहे और उनके पास किसी आपात स्थिति से निपटने के लिए पैसे रहें.

कोरोना से लड़ने के लिए रियायंस की पहल
कंपनी ने कहा कि रिलांयस परिवार के 6 लाख सदस्य कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में पूरी तरह से तैनात हैं. गौरतलब है कि रिलायंस फाउंडेशन ने हाल में कोरोना मरीजों के इलाज के लिए मुंबई में एक 100 बेड का अस्पताल दिया है. इसके अलावा पिछले दिनों का रिलायंस का बयान आया था कि किसी किसी कॉन्ट्रेक्ट कर्मचारी को नहीं हटाया जाएगा और उन्हें पूरा वेतन मिलेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here