नाले की गैस से चाय बनाने वाला शख्स रायपुर का रहवासी

Shyamrao Shirke
श्याम राव शिर्के नाम का यह शख्स छत्तीसगढ़ के रायपुर का रहने वाला है।

नई दिल्ली। देश में पकोड़ों पर हुई बहस के बाद अब नाले की गैस से चाय बनाने वाला शख्स चर्चा में आ गया है। पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस शख्स का जिक्र किया था जिसके बाद राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री पर तंज कसा था। इस बीच जिस व्यक्ति को लेकर यह बयानबाजी हो रही है वो सामने आया है। श्याम राव शिर्के नाम का यह व्यक्ति मैकेनिकल कॉन्ट्रेक्टर है और छत्तीसगढ़ के रायपुर का रहने वाला है।

श्याम राव शिर्के नाम का यह शख्स छत्तीसगढ़ के रायपुर का रहने वाला है।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 10 अगस्त को बायोफ्यूल डे पर संबोधन के दौरान नाले की गैस से चाय बनाने वाले एक शख्स का किस्सा सुनाया था। पीएम के इस उदाहरण का लोगों ने सोशल मीडिया में मजाक उड़ाया था वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी कर्नाटक में एक रैली के दौरान मोदी के किस्से पर तंज कसा था।

पीएम द्वारा उदाहरण के रूप में पेश किए जाने के बाद अब शिर्के सामने आए हैं और उनके उदाहरण की पुष्टि की है। श्याम राव ने बताया कि मैंने नालियों से पानी इकट्ठा किया और और पानी के बुलबुले इकट्ठा करने के लिए मिनी ‘कलेक्टर’ बनाया। गैस होल्डर के लिए मैंने एक ड्रम का इस्तेमाल किया। मैंने जब इसका परीक्षण किया तो यह काम करने लगा। इसे मैंने गैस स्टोव से जोड़ा और फिर चाय बनाने लगा। फिर मैंने इसे उस घर में लगाया जहां चार-पांच महीने के लिए खाना बनाया गया था।

श्याम राव ने बताया ‘छत्तीसगढ़ विज्ञान और प्रौद्योगिकी ने मुझे इसे अगले स्तर पर ले जाने के लिए पैसे दिए। जब मैंने इसे नाले में लगाया तो तीन दिनों में काफी गैस इकट्ठा हो गई थी। कुछ वैज्ञानिकों ने मुझे बताया कि मेरे पेपर उच्च अधिकारियों के भेजे गए हैं। इस बात को दो साल हो चुके थे और मैं इसे भूल चुका था। अभी मुझे पता चला की मोदी जी ने मेरी खोज का जिक्र किया है। अब मैंने अपने प्रोजेक्ट का ग्लोबल पेटेंट करा लिया है।’

श्याम राव ने आगे बताया कि उनकी कोई वित्तीय मदद नहीं की गई। यहां तक कि नगरपालिका के लोगों ने उपकरण को फेंक दिया और कहा कि यह बेकार है। विज्ञान और प्रौद्योगिकी के लोगों ने मुझे एफआईआर दर्ज कराने के लिए कहा। मैं निराश था इसलिए कुछ भी नहीं किया। उन्होंने कहा ‘नाला मीथेन गैसों और प्रदूषण को उत्सर्जित कर रहा है। ये अब इस तरह के कुछ और ईंधन बनाने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है। यह राष्ट्रीय हित में है।’

नहीं सोचा था राहुल अपरिपक्व हैं’
श्याम राव ने राहुल के बयान पर टिप्पणी करते हुए कहा ‘मुझे राहुल गांधी का भाषण पसंद नहीं आया। मैंने कभी नहीं सोचा कि वह अपरिपक्व हैं।’

पीएम ने क्या कहा था
पीएम मोदी ने किस्सा सुनाते हुए बताया था ‘मैंने एक अखाबर में पढ़ा था कि शहर में नाले के पास एक व्यक्ति चाय बेचता था। उस व्यक्ति के मन में विचार आया कि क्यों ना नाले से निकलने वाली गैस का इस्तेमाल चाय बनाने में किया जाए। उसने एक बर्तन को उल्टा कर उसमें छेद किया और पाइप लगा दिया। अब नाले से जो गैस निकलती थी उससे वो चाय बनाता था।’

मोदी के किस्से पर राहुल का तंज
राहुल गांधी ने कर्नाटक में रैली के दौरान पीएम मोदी के सुनाए किस्से पर जोरदार तंज कसा था। राहुल ने कहा था ‘नाले में पाइप लगाओ और ढाबे पर पकौड़े बनाओ। ये नरेन्द्र मोदी जी की युवाओं को रोजगार देने की रणनीति है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here