नक्सलियों ने मुखबिरी के शक में की पहली बार 15 साल के छात्र की हत्या

बस्तर
नक्सलियों ने पहली बार मुखबिरी के शक में 15 के मासूम को की हत्या करने के साथ ही 21 वर्षीय युवक की भी हत्या कर दी। दो७नों के शव रोड से 500 मीटर दूर पड़े थे। नक्सलियों ने इसकी जानकारी पर्चे फेंककर दी हैं।

जगरगुंडा थाना के मिलमपल्ली इलाके में नक्सलियों ने देर रात धावा बोला और 15 वर्षीय ताती हड़मा और 21 वर्षीय मड़कम अर्जुन को अपने साथ ले गए जहां उनकी हत्या कर दी। अर्जुन का भाई बस्तरिया बटालियन में जवान है, जबकि ताती हड़मा के पिता सहायक आरक्षक रह चुके हैं और नक्सली धमकी के बाद ही उन्होंने नौकरी छोड़ दी थी। दोनों का शव रोड से 500 मीटर की दूरी से बरामद किया गया है। माओवादियों ने मौके पर पर्चे भी फेंके हैं और दोनों पर पुलिस मुखबिरी का आरोप लगाया है। जिले के एसपी केएल ध्रुव ने घटना की पुष्टि की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here