‘हलवा सेरेमनी’ के साथ बजट की प्रक्रिया शुरू, 10 दिन तक नॉर्थ ब्लॉक के बेसमेंट में बंद रहेगी बजट टीम  

नई दिल्ली।
1 फरवरी को देश का आम बजट पेश किया जाएगा। आपको बता दें कि शनिवार को नॉर्थ ब्लॉक में 'हलवा सेरेमनी' आयोजित होने के साथ ही बजट की प्रक्रिया शुरू हो गई। देश में केंद्रीय बजट की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है। इस साल बजट के दस्तावेजों की प्रिंटिंग नहीं होगी आपको बता दें कि 'हलवा सेरेमनी' इस देश की ऐसी परंपरा है जो हर साल बजट से पहले मनाई जाती है। शनिवार को नॉर्थ ब्लॉक में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों की मौजूदगी में 'हलवा सेरेमनी' को मनाया गया। इन आयोजन में हलवा बनाया जाता है और वित्त मंत्री समेत सभी अधिकारियों को खिलाया जाता है।

 इस सेरेमनी के साथ ही संसद के नार्थ ब्लॉक की बेसमेंट में बजट के दस्तावेजों की प्रिंटिंग शुरू हो जाती है, लेकिन इस बार दस्तावेजों की प्रिंटिंग नहीं की जा रही है। कोरोना महामारी के चलते उन दस्तावेजों को डिजिटल रूप में सदन के समक्ष पेश किया जाएगा। इसके अलावा सांसदों को भी बजट के दस्तावेज डिजिटल रूप में दिए जाएंगे। हर साल छपाई का कार्य लगभग 10 दिन तक तक चलता है। 10 दिन के लिए बेसमेंट में कर्मचारियों को रखा जाता है नजरबंद भले ही इस बार बजट के दस्तावेज प्रिंट ना किए जा रहे हों, लेकिन बजट के दस्तावेज तैयार करने का काम तो होगा ही। इस काम को भी काफी गोपनीय तरीके से किया जाता है। 

बजट के दस्तावेज तैयार करने के लिए बेसमेंट को 10 दिन के लिए पूरी तरह से बंद कर दिया जाता है और वहां के कर्मचारियों को भी 10 दिन के लिए बेसमेंट में ही नजरबंद कर दिया जाता है। बजट तैयार करने वाली टीम हलवा सेरेमनी के बाद किसी के संपर्क में नहीं रहती है, जब तक बजट तैयार नहीं हो जाता है। यहां तक कि उन लोगों को परिवार के लोगों से भी संपर्क नहीं करने दिया जाता। ये कर्मचारी तभी बेसमेंट से बाहर आएंगे, जब वित्त मंत्री संसद में बजट पेश कर लेंगी। बजट को लेकर कोई जानकारी लीक न हो इसलिए ये कदम अहतियातन उठाया जाता है। आपको बता दें कि बजट सत्र की शुरुआत 29 जनवरी से होगी और 1 फरवरी को बजट पेश किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here