नीट की परीक्षा में धार जिले के 40 विद्यार्थियों का सिलेक्शन, आदिम जाति कल्याण विभाग द्वारा कोचिंग और पढ़ाई

भोपाल
अखिल भारतीय स्तर पर ली गई नीट की परीक्षा में आदिवासी बहुल धार जिले के 40 विद्यार्थियों का सिलेक्शन हुआ है। आदिम जाति कल्याण विभाग द्वारा इन विद्यार्थियों को कोचिंग और पढ़ाई के मटेरियल उपलब्ध कराने का काम किया जाता रहा है और इतनी अधिक संख्या में बच्चों के सिलेक्ट होने से विभाग के अफसरों का हौसला बढ़ा है। सबसे अधिक 26 परीक्षार्थी आदिवासी वर्ग से सिलेक्ट हुए हैं जबकि ओबीसी से 9 और एससी वर्ग से 4 का सिलेक्शन हुआ है। खास बात यह है कि 40 में से 23 लड़कियां परीक्षा में सफल हुई हैं, जिसमें से 19 आदिवासी समाज की हैं।

नीट परीक्षा के परिणाम घोषित होने के बाद आदिवासी बहुल धार जिले से चयनित हुए 40 विद्यार्थियों के सिलेक्शन ने इस क्षेत्र में शिक्षा के स्तर में सुधार के संकेत दिए हैं। आदिम जाति कल्याण विभाग धार द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक जो बच्चे सिलेक्ट हुए हैं, उसमें ओबीसी वर्ग से उमेश, अमीर, अनुराग, निमिश, रुचिका, तुलजेश, फजिला, अयाला, पूजा तथा एससी वर्ग से शनि, हर्षित, ललिता, प्रज्जवल सिलेक्ट हुए हैं। सिलेक्ट हुए विद्यार्थियों में धार विकास खंड के 27, बाग के एक, कुक्षी के सात, धरमपुरी के तीन और निसरपुर विकासखंड के दो छात्र-छात्राएं शामिल हैं।

एसटी वर्ग से रिंकू, रवि, पूजा, अंजुम, मनीषा, राहुल शोभाराम, सुखदेव, हर्षित, धन्नालाल, निकिता, भावना, राहुल पन्नालाल, हेमलता, स्नेहा, ईशिका, आयुषी, रीतेश के नाम हैं। इनके अलावा काजल, पूजा, पायल, शीतल, अंजली, निशिता, नंदनी, दीपिका, अन्नपूर्णा और आदित्य भी सिलेक्ट हुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here