जब कैप्टन हीं भाग जाये तो बाकि सिपाही कब तक टिकेंगे: शिवराज सिंह


भोपाल। कांग्रेस मुक्त भारत का सपना राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का था। उन्होंने देश की आजादी के बाद कांग्रेस को भंग किए जाने की बात कही थी। अब कांग्रेस के नकली गांधी असली गांधी यानी बापू के कांग्रेस मुक्त भारत के सपने को साकार कर रहे हैं।
यह बात प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं भाजपा सदस्यता अभियान के राष्ट्रीय प्रभारी शिवराजसिंह चौहान ने  गुरुवार को नागपुर में पत्रकारों से चर्चा करते हुए कही। श्री चौहान ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने विधानसभा चुनाव के पहले 10 दिनों में कर्जमाफी  न होने पर मुख्यमंत्री बदलने की बात कही थी, उन्होंने मुख्यमंत्री तो नहीं बदले, खुद ही इस्तीफ ा देकर चल दिए।
पार्टी का सर्वोच्च अभी बाकी
श्री चौहान ने कहा कि हमने लोकसभा चुनाव में अभूतपूर्व सफ लता हासिल की, लेकिन भाजपा का सर्वोच्च आना अभी बाकी है। यह तब हासिल होगा जब उन राज्यों में भी हमारी सरकारें हों, जहां अभी हम सत्ता में नहीं हैं। इस लक्ष्य को पाने के लिए हम वोट प्रतिशत बढ़ाना है, संगठन को विस्तार देना है। उन्होंने कहा कि संगठन विस्तार का आधार है सदस्यता और इसी उद्देश्य से नए सदस्यों को जोडऩे के लिए सदस्यता अभियान शुरू किया गया है।
श्री चौहान ने कहा कि मोदी जी के नेतृत्व वाली हमारी सरकार का मूल मंत्र है-सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास। इसी तरह हमारे संगठन का मूल मंत्र है-सवज़्स्पशीज़् भाजपा, सर्वव्यापी भाजपा। उन्होंने कहा कि हम सदस्यता अभियान में किसी वर्ग को नहीं छोड़ेंगे। डॉक्टर हो, इंजीनियर हो, सीए हो, रिटायर्ड फ ौजी हो, कलाकार हो, किसान हो, युवा हो, महिला हो सबको पार्टी से जोड़ेंगे। सदस्यता अभियान में हम कोई बूथ नहीं छोड़ेंगे। उन्होंने कहा कि अभियान के दौरान 18 हजार पूर्णकालिक कार्यकर्ता, सदस्यता विस्तारक सात दिनों तक बूथ-बूथ जाकर सदस्य बनायेंगे।
जो पार्टी अपना घर नहीं संभाल सकी, देश क्या संभालेगी
श्री चौहान ने कहा कि एक तरफ हम संगठन विस्तार में जुटे हैं, तो वहीँ दूसरी तरफ कांग्रेस जैसी पार्टियाँ वेंटिलेटर पर हैं। आज कांग्रेस का नेतृत्व नहीं बचा है। जिस परिवार का कोई मुखिया नहीं उसके सदस्य भगवान भरोसे ही होते हैं। उन्होंने कहा कि जो पार्टी अपना घर नहीं संभल पाई, वो देश को क्या संभालेगी ? कोई जहाज डूबता है तो उसका कैप्टन अंतिम क्षण तक बचाने की कोशिश करता है, लेकिन कांग्रेस का जहाज डूब रहा है तो सबसे पहले कैप्टन कूद कर भाग गया। श्री चौहान ने कहा कि विपक्ष के बुरे हाल हैं। ममता बनर्जी कहती हैं सब इक_े आ जाओ वरना भाजपा खा
जाएगी। यूपी में महागठबंधन बना था पर लोकसभा चुनाव के परिणाम आते ही बुआ-बबुआ अलग हो गए।
एक परिवार के बाहर का नेतृत्व नहीं उभरने दिया
श्री चौहान ने कहा कि कांग्रेस में कभी भी नेहरू परिवार के सदस्यों को छोड़कर अन्य किसी नेता को उभरने नहीं दिया गया। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को उनके कार्यकाल में पिंजड़े का पंछी बनाकर रखा और सरकार मां बेटे चलाते रहे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता पूर्व प्रधानमंत्री स्व. नरसिम्हा राव का नाम तक नहीं लेते।
सरकार संभल नहीं रही, भाजपा पर लगा रहे आरोप
श्री चौहान ने कहा कि जिन राज्यों में भी आज कांग्रेस की सरकारें हैं, वो घात-प्रतिघात और गुटबाजी की शिकार हैं। हर जगह  भगदड़ मची है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस से अपनी सरकारें नहीं संभल रहीं, तो भाजपा पर आरोप लगाने से क्या होगा? कर्नाटक का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस और जेडीएस में ऐसी ठनी हैं कि मुख्यमंत्री बनने के बाद से ही कुमारस्वामी लगातार रो रहे हैं। वहां के विधायकों में पार्टी छोडऩे की होड़ लगी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here