मप्र : भाजपा कमलनाथ सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की तैयारी में ,राज्यपाल को लिखा पत्र

भोपाल // लोकसभा चुनाव होने के साथ ही नतीजे एनडीए के पक्ष में आते देख प्रदेश की राजनीति में एक बार फिर उबाल आने के संकेत हैं। दरअसल , भाजपा कमलनाथ सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की तैयारी शुरू कर दी है।
इसके लिए नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने राज्यपाल को पत्र लिखकर विधानसभा का विशेष सत्र शीघ्र बुलाये जाने की मांग की है। तो प्रदेश सरकार के मंत्री गोविन्द सिंह राजपूत ने कहा कि कमलनाथ के साथ सारे विधायक चट्टान की तरह खड़े हैं,भाजपा ऐसा कोई ख्वाब न पाले।
नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने राज्यपाल को पत्र लिखकर विधानसभा का विशेष सत्र शीघ्र बुलाये जाने की मांग की है
नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कहा कि यहां बहुत सारे मुद्दे हैं। कांग्रेस विधायक अपनी पार्टी से खुश नहीं हैं, वे पार्टी छोड़ेने के लिए तैयार हैं। इससे सरकार के पास बहुमत नहीं बचेगा। भार्गव ने आज यहां मीडिया से कहा कि हर सर्वेक्षण में केंद्र में एनडीए सरकार तय लग रही है।

 

नए परिप्रेक्ष्य में मध्यप्रदेश में भारतीय जनता पार्टी को 29 में से 26-27 सीटें आने की संभावना है। इससे साबित होता है कि कांग्रेस के पास विश्वास नहीं बचा। ये जनमत राज्य सरकार के खिलाफ आया है और इसलिए सरकार को जल्द विधानसभा का सत्र बुलवा कर सदन में विश्वास साबित करना चाहिए।
उन्होंने कहा कि जब लोगों की राय कांग्रेस के खिलाफ है, तो नया सत्र बुलवा कर जल्द चर्चा कराना भाजपा का राजधर्म है। उन्होंने दावा किया कि नतीजे एग्जिट पोल से बहुत ज्यादा अलग नहीं आएंगे।
विपक्ष की ही भूमिका निभाए भाजपा : राजपूत
         मध्य प्रदेश के परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने दी एमपी विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव को नसीहत, कांग्रेस सरकार के ख़िलाफ़ अविश्वास प्रस्ताव लाने का न सोचें
बीजेपी नेता, गोपाल भार्गव आप बड़ी मुश्किल से नेता प्रतिपक्ष बनपाए हैं अब विपक्ष की अच्छी भूमिका निभाइए, मुख्यमंत्री कमलनाथ के साथ सारे विधायक चट्टान की तरह खड़े हैं, बीजेपी नेताओं का बयान, उस कहावत की तरह सूत न कपास जुलाहों में लट्ठम लट्ठा …. .

 

 

कांग्रेस के पास 114, भाजपा के पास 109 सदस्य
मध्यप्रदेश में पिछले साल नवंबर-दिसंबर में हुए विधानसभा चुनाव में राज्य में 15 साल बाद कांग्रेस की वापसी हुई है। वर्तमान में 230 सदस्यीय मध्यप्रदेश विधानसभा में कांग्रेस के पास 114 और भाजपा के पास 109 सीटें हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here