राहुल ने दिया इलेक्शन विनिंग फॉर्मूला, लोकसभा चुनाव में बनेगा घोटाले का मुद्दा

राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव के लिए मध्यप्रदेश कांग्रेस नेताओं को इलेक्शन विनिंग फॉर्मूला
कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव के लिए मध्यप्रदेश कांग्रेस नेताओं को इलेक्शन विनिंग फॉर्मूला दिया है। लोकसभा चुनाव से पहले शुक्रवार को एक दिन के भोपाल दौरे पर आए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने स्टेट हैंगर पर पार्टी के बड़े नेताओं के साथ बैठक कर लोकसभा चुनाव की रणनीति पर मंथन किया है। मिशन 29 को लेकर हुई कांग्रेस की इस बैठक में लोकसभा चुनाव में किस तरह पार्टी बीजेपी से सीटें छीनकर लोकसभा में अपनी सीटें बढ़ाए इस पर मंथन किया गया है। बैठक में राहुल गांधी ने निर्देश दिए कि पार्टी को लोकसभा चुनाव से पहले जनता को कांग्रेस सरकार को अब तक किए गए कामों को पहुंचाना चाहिए। इसके लिए राहुल ने मंत्रियों को जिम्मेदारी सौंपते हुए कहा कि मंत्री भोपाल में न बैठकर अपने प्रभार वाले जिलों में जाकर लोगों से मिलकर ये बताएं कि सरकार ने किस तरह सत्ता में आते ही अपने वचन पत्र को पूरा किया। राहुल ने किसानों की कर्जमाफी और युवाओं को रोजगार देने के सरकार के निर्णय को लोगों तक पहुंचाने के निर्देश दिए। बैठक में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राहुल गांधी के सामने प्रदेश सरकार के 45 दिन के कामकाज का ब्यौरा रखा। इस पर राहुल गांधी ने मुख्यमंत्री कमलनाथ को बधाई दी। कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव के दौरान शिवराज सरकार में हुए घोटाले को भी मुद्दा बनाने की रणनीति तैयार कर ली। स्टेट हैंगर पर हुई बैठक में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राहुल गांधी को बताया कि किस तरह बीजेपी सरकार के समय किसानों के नाम पर फर्जी लोन निकाला गया है। इस पर राहुल गांधी ने मुख्यमंत्री कमलनाथ को बीजेपी सरकार के समय हुए घोटाले को लोगों के समाने ले जाने के निर्देश दिए। पार्टी लोकसभा चुनाव के दौरान शिवराज सरकार में हुए घोटाले को लोगों के सामने रखकर ये बताने की कोशिश करेगी कि पिछले पंद्रह सालों में बीजेपी सरकार ने प्रदेश के खजाने को चपत लगाई। वही बैठक में राहुल ने निर्देश दिए कि मंत्रियों को लोकसभा चुनाव में लगाकर उनको सीट जिताने की भी जिम्मेदारी दी जाए है। इसके लिए मंत्रियों को लोकसभा सीटों की जिम्मेदारी दी जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here