पीएम मोदी के गुरु स्वामी विश्वेश तीर्थ का रविवार सुबह निधन

बेंगलुरू। कर्नाटक के पेजावर मठ के प्रमुख और पीएम मोदी के आध्यात्मिक गुरु स्वामी विश्वेश तीर्थ का रविवार सुबह 88 वर्ष की आयु में निधन हो गया है। सुबह साढ़े नौ बजे उन्होंने उडुप्पी में अंतिम सांस ली। नरेंद्र मोदी के पहली बार पीएम बनने के बाद स्वामी तीर्थ उनसे मिलने दिल्ली गए थे और मोदी के दूसरे शपथ ग्रहण में भी शामिल हुए थे। पीएम मोदी ने उनसे गुरु पूर्णिमा के मौके पर आखिरी मुलाकात का जिक्र करते हुए निधन पर शोक जताया है।

प्रधानमंत्री ने ट्वीट में लिखा- ”उडुपी श्री पेजावर मठ के श्री विश्वेश तीर्थ स्वामी उन लाखों लोगों के दिल और दिमाग में हमेशा रहेंगे, जो उन्हें अपना मार्गदर्शक मानते हैं। वे सेवा और आध्यात्म के पुरोधा थे। वे एक न्यायपरक और दयाभाव रखने वाला समाज बनाने के लिए निरंतर कार्यशील रहे। ओम शांति।”
उडुपी पहुंची थीं उमा भारती
येदियुरप्पा सरकार ने कहा है कि स्वामी विश्वेश तीर्थ का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा। बताया जा रहा है कि 20 दिसंबर को सांस लेने में तकलीफ होने के बाद अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। शनिवार को उनकी तबीयत ज्यादा बिगड़ गई थी। रविवार सुबह ही पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी की दिग्गज नेता उमा भारती उनका हालचाल जानने उडुपी पहुंची थीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here