मिताली को भरोसा है कि रमन का कोच के तौर पर अनुभव अंतर पैदा करेगा

मिताली को भरोसा है कि रमन का कोच के तौर पर अनुभव अंतर पैदा करेगा , बाहर किए गए कोच रमेश पोवार और सीओए सदस्य डायना इडुल्जी के साथ उनके मतभेद अब बीती बात हो गए हैंजब एक कोच राष्ट्रीय टीम के लिए आता है तो हम बतौर टीम हम बहुत मुखर हो जाते हैं कि टीम के फायदे के लिए क्या जरूरी है और अब मिताली राज न्यूजीलैंड के आगामी दौरे में नए कोच डब्ल्यूवी रमन के मार्गदर्शन में नई शुरुआत करने के लिए तैयार हैं. वेस्टइंडीज में टी-20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में बाहर होने के बाद महिला टीम सुर्खियों का केंद्र बन गई थी, क्योंकि मिताली ने इसके बाद पिछले कोच पोवार पर पक्षपात का और सीओए सदस्य इडुल्जी पर उनका करियर खत्म करने की कोशिश करने का आरोप लगाया था भारत की महिला वनडे टीम की कप्तान मिताली ने कहा, ‘मुझे लगता है कि यह नई शुरूआत है. नए साल में यह पहली सीरीज है और हां, हम उसे (विवाद) को पीछे छोड़ चुके हैं.’ मिताली को भरोसा है कि रमन का कोच के तौर पर अनुभव अंतर पैदा करेगा. उन्होंने कहा, ‘जब एक कोच राष्ट्रीय टीम के लिए आता है तो हम बतौर टीम हम बहुत मुखर हो जाते हैं कि टीम के फायदे के लिए क्या जरूरी है. कोच और खिलाड़ियों को एक स्तर पर होना चाहिए क्योंकि यह काफी अहम होता है.उन्होंने कहा, ‘मैं उनके साथ कभी ट्रेनिंग नहीं की है, लेकिन दो बार उनसे मिली थी, लेकिन अगर आप उनकी योग्यता देखोगे तो वह शीर्ष स्तर तक खेले हैं और विभिन्न स्तर की कई टीमों को उन्होंने कोचिंग दी है. इससे आप सकारात्मक हो कि कोच टीम में बड़ा अंतर लाएंगे.’ मिताली ने यह भी स्वीकार किया कि सभी कोचों ने टीम को बेहतर बनाने में अहम भूमिका अदा की है गौरतलब है कि टी-20 वर्ल्ड कप में भारत को सेमीफाइनल में इंग्लैंड ने हराया और उसी मैच में मिताली को बाहर किए जाने पर विवाद उठा था. मिताली ने पोवार के आरोपों पर अपने ट्विटर पेज पर लिखा था,‘ मैं इन आरोपों से बहुत दुखी और आहत हूं. खेल के प्रति मेरी प्रतिबद्धता और देश के लिए 20 साल खेलने के दौरान मेरी मेहनत, पसीना सब बेकार गया.’ मिताली और कोच के बीच के इस विवाद ने भारतीय महिला क्रिकेट को झकझोर दिया था. मिताली ने पहले पोवार को प्रशासकों की समिति की सदस्य डायना एडुलजी पर पक्षपात का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि डायना ने उनके खिलाफ अपने पद का दुरुपयोग किया, जबकि पोवार ने उन्हें अपमानित किया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here