स्टोन और कैंसर की वजह बन सकता है नकली जीरा, ऐसे करें असली-नकली की पहचान

राजस्थान 
राजस्थान और गुजरात में चल रहा नकली जीरे का कारोबार अब दिल्ली तक पहुंच गया है। दिल्ली में पहली बार पकड़ी गई नकली जीरे की खेप ने नई मुसीबत खड़ी कर दी है। यह जंगली घास, गुड़ की पात और पत्थर के पाउडर को मिलाकर तैयार किया जा रहा है, जो सेहत के लिए बेहद खतरनाक है। नकली जीरे के सेवन से न केवल स्टोन का खतरा है, बल्कि इसके लगातार सेवन से रोग प्रतिरोधक क्षमता यानी शरीर की इम्यूनिटी भी कमजोर हो जाती है। यह कैंसर का भी कारण बन सकता है।

रोगों से लड़ने की क्षमता हो जाती है कमजोर
डॉक्टरों का कहना है कि यह मिलावट बहुत खतरनाक है और आम लोगों के जीवन से खिलवाड़ है। इस पर तुरंत रोक लगनी चाहिए। मिलावटखोरों पर सख्त कार्रवाई की जरूरत है। न्यूट्रीशनिस्ट डॉक्टर अनिता लांबा ने बताया कि जिस तरह से इसे तैयार किया जा रहा है और जो चीजें मिलाई जा रही है, उससे स्टोन होने का खतरा है। इसके सेवन से रोगों से लड़ने की शरीर की क्षमता कम हो जाती है। उन्होंने बताया कि इंसान की बॉडी मिलावटी चीजें खाने के लिए नहीं बनी है। इस बारे में बीएलके सुपर स्पेशिऐलिटी हॉस्पिटल की न्यूट्रीशनिस्ट मेघा जैन ने कहा कि इसकी वजह से कैंसर हो सकता है। स्किन की बीमारी हो सकती है।

हमारे घरों में इस्तेमाल किए जाने वाले मसालों का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है जीरा, जिसका प्रयोग हम खाने को स्वादिष्ट बनाने के लिए करते हैं। लेकिन स्वाद के साथ ही स्वास्थ्य के लिए भी जीरा बेहद अहम है। वहीं गुड़ भी तमाम तरह के पोषक तत्वों से भरपूर होता है। जीरा और गुड़ के पानी का सेवन करने से कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं को ठीक किया जा सकता है।

सिरदर्द से छुटकारा
गुड़ और जीरे का पानी पीने से सिरदर्द में काफी राहत मिलती है। इसलिए अगर आपको बार-बार सिरदर्द की शिकायत रहती है तो आप इस नुस्खे का इस्तेमाल कर सकते हैं। सिरदर्द के अलावा जीरे और गुड़ के पानी से बुखार को भी ठीक किया जा सकता है।

दुरुस्त होगा प्रतिरक्षा तंत्र
प्राकृतिक गुणों से भरपूर जीरा और गुड़ शरीर से विषाक्त तत्वों को निकलाने में मदद करते हैं। ये हमारे शरीर की गंदगी को साफ कर हमारे प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत बनाते हैं। इससे हमें कई बीमारियों से लड़ने में मदद मिलती है।

पेट की हर समस्या का हल
जीरा और गुड़ दोनों पेट की हर समस्या दूर करने के लिए जाने जाते हैं। ऐसे में कब्ज, गैस, पेट फूलना और पेट दर्द जैसी समस्याओं से राहत पाने के लिए जीरे और गुड़ के पानी का नुस्खा जरूर आजमाएं। इससे पेट की हर समस्या का समाधान हो जाएगा।

कमर दर्द में लाभकारी
पीठ दर्द और कमर दर्द जैसी समस्याओं के इलाज में भी गुड़ और जीरे का पानी बहुत मदद करता है। इसके अलावा पीरियड्स में हार्मोनल बदलावों के चलते महिलाओं को तमाम तरह की तकलीफें होती हैं। इन सभी तकलीफों से निजात दिलाने में गुड़ और जीरे का पानी बेहद कारगर नुस्खा है।

पानी को तैयार करने का तरीका
जीरे और गुड़ का पानी बनाने के लिए एक बर्तन में 2 कप पानी लें। अब इसमें 1 चम्मच पीसा हुआ गुड़ और एक चम्मच जीरा मिलाएं और अच्छी तरह उबाल लें। उबालने के बाद इस पानी को कप में निकालकर पिएं। रोज सुबह खाली पेट इस पानी का सेवन करना सेहत के लिए काफी फायदेमंद है।

ऐसे बनता है नकली जीरा
इसके लिए एक खास प्रकार की घास का उपयोग किया जाता है। उसे गुड़ के पानी में मिलाकर सुखाया जाता है। इससे घास का रंग जीरे की तरह हो जाता है। फिर जीरे में चमक लाने और उसे ठोस बनाने के लिए पत्थर का पाउडर के साथ मिक्स किया जाता है। गुजरात और राजस्थान में नकली जीरे का कारोबार कई महीनों से चल रहा है। वहां पिछले कुछ महीनों में नकली जीरे की कई खेप पकड़ी गई हैं। दूसरे देशों को भी यह जीरा भेजा जा रहा है।

ऐसे करें पहचान
नकली जीरे की पहचान के लिए एक कटोरी पानी में इसे डाल दें। पानी में कुछ देर रहने के बाद नकली जीरा गलने लगता है। वह टूटने लगता है। उसका रंग छूटने लगता है। असली जीरा पानी में डाले जाने के बाद भी बदलता नहीं है।
 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here