कप्तान डु प्लेसिस बोले, शमी से सीखें हमारे पेसर्स

पुणे
कप्तान फाफ डु प्लेसिस को लगता है कि साउथ अफ्रीका के युवा तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी से बहुत कुछ सीख सकते हैं जिसमें घरेलू परिस्थितियों में प्रभावशाली गेंदबाजी करना भी शामिल है। शमी ने पहले टेस्ट के पांचवे दिन विशाखापत्तनम में घातक गेंदबाजी की जिससे भारत ने 203 रन से मैच को अपने नाम किया।

डु प्लेसिस ने दूसरे टेस्ट से पहले बुधवार को यहां कहा, ‘मैंने अपने एक युवा गेंदबाज से कहा कि आपके लिए यह सीखने का अच्छा मौका है। मैंने कहा कि आप देख सकते है घरेलू परिस्थितियों में जब कोई शीर्ष पर होता है तो कैसा क्रिकेट खेलता है। उन्होंने कहा, ‘आप (युवा खिलाड़ी) यह सीख सकते है कि क्रीज के कोण का इस्तेमाल और गेंद को रिवर्स स्विंग कराने के बारे में सीख सकते है। ऐसे में जाहिर है सीखने के लिए काफी कुछ है।’

शमी ने मैच के पांचवें दिन जिस प्रभावशाली तरीके से गेंदबाजी की उससे साउथ अफ्रीका के कप्तान काफी प्रभावित हुए है। उन्होंने कहा, ‘उनकी गेंदबाजी में काफी तीव्रता है। आप गर्मी में छोटे स्पैल डालते है लेकिन जब आप गेंदबाजी करते है तो यह सुनिश्चित करने की कोशिश करते है कि आप पूरी दमखम से गेंदबाजी करें और उसे बढ़ते रहे।’

डु प्लेसिस ने कहा कि शमी की गेंदबाजी की लैंग्थ से भी काफी कुछ सीखा जा सकता है। उन्होंने कहा, ‘वह ऐसे गेंदबाज हैं जिनकी गेंद स्टंप्स से बहुत ज्यादा टकराती हैं। गेंदबाजी के लिहाज से भी काफी कुछ सीखा जा सकता है। हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि हम बेहतर करें। खास कर पहली पारी में, हमने काफी वाइड गेंदे फेंकी (पहले टेस्ट) जिससे उन्होंने आसानी से रन बनाए।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here