Keral: 17 सालों में बहू ने एक -एक कर पूरे परिवार को मौत के घाट उतारा

केरल के एक परिवार में 2002 से 2016 के बीच कुल 14 सालों में हुई एक के बाद एक 6 मौतों के रहस्य पर से पर्दा उठता दिख रहा है। मामले में कुल तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इन आरोपियों में एक परिवार की महिला भी है जिसपर पुलिस को इन हत्याओं का मास्टरमाइंड होने का संदेह है। ये हत्याएं एक एक कर खाने में पोटेशियम साइनाइड की मदद से की गईँ।
मामला तब सामने आया जब पुलिस ने 14 सालों में मरे सभी परिवार वालों की कब्रें खोदीं। जॉली थोमस नाम की महिला ने सबसे पहले अपनी सास अनम्मा थोमस को 2002 में मार डाला और 2008 में ससुर टॉम थोमस की भी जान ले ली। 2011 में जॉली ने अपने पति रॉय थोमस और फिर 2014 में रॉय के चाचा मैथ्यू की हत्या कर दी। वहीं 2016 में उसने एक अन्य रिश्तेदार साइली और उसके एक साल के बच्चे को भी उसी तरह मार दिया।
पुलिस ने पाया कि ये सभी लोग खाना खाते ही मर गए और हर मौत के समय जॉली वहां मौजूद थी। पुलिस को शक है कि या तो जॉली के किसी और से संबंध थे इसलिए उसने ये सब किया या फिर उसने जायदाद हड़पने के लिए ये कदम उठाया। अगर अमेरिका में रहने वाले टॉम थोमस के दूसरे बेटे रौजी थोमस ने शिकायत न दर्ज कराई होती तो शायद इन मौतों पर से कभी पर्दा न उठाता।
जॉली का पता लगाने पर पुलिस को मालूम हुआ कि उसने शाजू नाम के शख्स से दूसरी शादी कर ली है। शाजू का बेटे और पहली पत्नी की मौत भी उसी तरह के हालातों में हुई जैसे जॉली के परिवार के लोगों की हुई थी।
इतने सालों से लगातार हो रही मौतों में से केवल रॉय की मौत के बाद उसके शव की जांच हुई थी जहां शरीर में जहर मिला और मामले को आत्महत्या करार देकर बंद कर दिया गया था।
इलाके के एसपी ने कहा कि फॉरेंसिक जांच पूरी होने पर हम चार्जशीट दाखिल करेंगे और संभव है कि और लोगों का गिरफ्तारी की जाए। शाजू और दो अन्य को हिरासत में लिया जा चुका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here