‘DAYE’ तूफान का कहर, ओडिशा में भारी बारिश के चलते बाढ़ से हालात

नई दिल्ली। मौसम विभाग द्वारा जिस साइक्लोन DAYE की चेतावनी जारी की गई थी वो ओडिशा के गोपालपुर तट से टकराने के बाद आगे बढ़ गया है। इसके कारण राज्य के कई हिस्सों में भारी बारिश के अलावा तेज हवाएं चल रही हैं। यह तूफान शुक्रवार अलग सुबह तट से टकराया और इसके बाद 23 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से हवाएं चलने लगीं।

daye storm
इसके कारण राज्य के कई हिस्सों में भारी बारिश के अलावा तेज हवाएं चल रही हैं।

भुवनेश्वर में मौसम विभाग के डायरेक्टर बीआर बिस्वास के अनुसार तूफान बंगाल की खाड़ी के उत्तर-पश्चिम से पश्चिम-उत्तर की तरफ गया है। यह गोपालपुर से 40 किमी दूर दक्षिणी ओडिशा पर केंद्रित हो सकता है। उनके अनुसार जैसे-जैसे यह आगे बढ़ेगा यह कमजोर होने लगेगा लेकिन इसकी वजह से गजपति, गंजम, पुरी, रायागाडा, कालाहांडी, कोरापुत, मल्कानगिरी और नवरंगपुर में भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है।

शनिवार को भी कई शहरों में भारी बारिश हो सकती है और 60-70 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से हवाएं भी चल सकती हैं।

फिलहाल इन दोनों राज्यों में मौसम विभाग ने रेड अलर्ट जारी किया है। इन राज्यों के अलावा भी 6 अन्य राज्यों में साइक्लोन का असर भारी बारिश और तूफान के रूप में दिख सकता है।

मौसम विभाग के अनुसार अगले कुछ घंटों में ओडिशा के तटीय इलाकों और आंध्र प्रदेश में 55 किलोमीटर प्रति घंटा से 65 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है।

वहीं, साइक्लोन के प्रभाव से ओडिशा और आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों में 21 सितंबर को कई इलाकों में भारी से भारी बारिश हो सकती है। इसका प्रभाव 22 सितंबर को भी रहेगा। तेलंगाना के कुछ इलाकों में 22 सिंतंबर को भारी से भारी बारिश की चेतावनी है।

ये राज्य भी होंगे प्रभावित
साइक्लोन का असर तेलंगाना, वेस्ट बंगाल के कुछ इलाकों, छत्तीसगढ़, झारखंड, मध्य प्रदेश और विदर्भ में भी भारी और सामान्य बारिश के रूप में देखा जा सकता है।

इन शहरों में नुकसान की आशंका

आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम, श्रीकाकुलम, विजयानगरम और ओडिशा के गजपति, गंजम, खुद्रा और पुरी जिलों में तूफान से नुकसान की भी आशंका जताई गई है।

मछुआरों को चेतावनी

फिलहाल अगले 24 घंटों के लिए ओडीशा और आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों में मछुआरों को समुद्र के पास न जाने की चेतावनी दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here