दुनिया का पहला शख़्स जो जाएगा चांद की सैर पर

आमतौर पर हम चांद पर जाने के सपने देखते हैं लेकिन एक शख्स का ये सपना कुछ सालों में साकार होने वाला है. एलन मस्क की एयरोस्पेस कंपनी स्पेसएक्स ने चांद पर जाने वाले पहले टूरिस्ट यानी यात्री के नाम का ऐलान किया है.

युसाकु मायेज़ावा, चांद पर जाने वाले पहले यात्री

42 वर्षीय जापानी करोड़पति और व्यापारी युसाकु मायेज़ावा दुनिया के पहले ‘प्राइवेट पैसेंजर’ के तौर पर चांद की यात्रा के लिए जाएंगे.

स्पेसएक्स ने इस मिशन के लिए साल 2023 का वक्त तय किया है. 1972 के बाद ये पहली बार होगा जब इंसान चांद पर जा सकेंगे.स्पेसएक्स ने अपने कैलिफोर्निया स्थित मुख्यालय से मंगलवार को इसका ऐलान किया.

हालांकि ये रॉकेट के बनने पर निर्भर करेगा जो अब तक पूरा बन नहीं सका है. इलॉन मस्क का कहना है, “ये अभी 100 फ़ीसदी तय नहीं है कि हम उड़ान चांद के लिए भेज ही लेंगे..स्पेसएक्स ने साल 2016 में बिग फैलक़ॉन रॉकेट लॉन्च किया था. इस लॉन्च को आम लोगों के आंतरिक्ष में जाने की दिशा में बड़ा कदम माना जा रहा है.

 

कौन हैं युकासु मायेज़ावा?
युसाकु जापान के बिज़नेसमैन हैं. पिछले साल वह तब सुर्ख़ियों में आए जब उन्होंने न्यूयॉर्क में आर्टिस्ट जीन मिशेल बास्केत की पेंटिंग को 110.5 मिलियन डॉलर में खरीदा था.
वो अपने साथ चांद की इस यात्रा में दुनिया के छह आर्टिस्ट्स को साथ ले जाएंगे ताकि वह जब धरती पर वापस आएं तो इस अनुभव को चित्रकारी में तब्दील कर सकें.

बीएफ़आर स्पेसशिप जो चांद पर इंसानों को ले जाएगी

उन्होंने कहा, “ये चित्रकारियां हर शख्स के भीतर छिपे ड्रीमर को जगाने का काम करेगी.”

नए मिशन के लिए नया रॉकेट
अब तक कुल 24 शख्स चांद पर जा चुके हैं और ये सभी अमरीकी रहे. दिसंबर 1972 में अमरीकी स्पेस एजेंसी नासा ने आखिरी बार चांद पर इंसानों पर उतारा था.

युसाकु चांद पर उतरेंगे नहीं बल्कि वह चांद की यात्रा करेंगे. यानी बिग फैलक़ॉन रॉकेट के ज़रिए वह अंतरिक्ष में जाएंगे और फिर धरती पर वापस आ जाएंगे.

बीते सोमवार मस्क ने बीएफ़आर के नए डिज़ाइन की एक तस्वीर ट्विटर पर साझा की. जो पिछले स्पेसक्रॉफ्ट रॉकेट से थोड़ा अलग है.

साल 2017 में एलन मस्क ने ऐलान किया था कि वे दो लोगों को चांद के एक लूप दौरे पर भेजेंगे. इस योजना का लॉन्च इस साल की शुरुआत तक किया जाना था.

लेकिन इस साल फरवरी में मस्क ने बताया कि स्पेसएक्स भविष्य के मिशन के लिए बीएफ़आर पर काम कर रही है. जिसके कारण ये योजना आगे बढ़ा दी गई.

आपको बता दें कि इलॉन मस्क सिलिकन वैली के जाने-माने बिज़नेसमैन हैं. वह इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली कंपनी टेस्ला के फाउंडर हैं और उन्होंने साल 2002 में एरोस्पेस की कंपनी स्पेक्सएक्स शुरु की और साल 2017 में कंपनी के डिज़ाइन रॉकेट को अंतरिक्ष भेजा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here