मप्र :शाजापुर में बाढ़ जैसे हालात, जान बचाने के लिए छत पर चढ़े लोग

शाजापुर। शाजापुर में भारी बारिश से हालात बेकाबू हो गए हैं। चीलर नदी का पानी गांवों में घुस गया है। बेरछा गांव में हालात किस कदर बेकाबू हो गए हैं। अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि यहां चार से पांच फीट तक पानी भरा हुआ है। मजबूरी में लोगों को घरों की छतों पर जाना पड़ा है।
लखुंदर नदी ने रौद्र रूप धारण कर रखा है। इसके चलते कई गांवों में कई फीट पानी भर गया है।
वहीं पानी भरने से कई लोगों ने अपना मकान खाली कर दिया है। यहां लखुंदर नदी ने रौद्र रूप धारण कर लिया है। क्या सड़क, क्या खेत, क्या गली-मोहल्ले सब जगह लखुंदर नदी का पानी ही नजर आ रहा है।
शाजापुर जिले के बेरछा के पलासी गांव में एक युवक के पुल पर से बहने की खबर आ रही है। युवक का नाम विक्रम सिंह बताया जा रहा है।
हादसा उस वक्त हुआ, जब वो पुल पार करने की कोशिश कर रहा है। इसी दौरान तेज धार में वो बह गया। लखुंदर नदी का जलस्तर बढ़ने से शाजापुर-कानड मार्ग बंद हो गया है। पुल पर 5 फीट से ज्यादा पानी आ गया है।
शाजापुर के मंडोदा गांव के भी कमोबेश यही हालात हैं। य़हां घरों में पानी घुस गया है। हालात ऐसे हैं कि पूरे गांव में चार से पांच फीट तक पानी भरा हुआ है।
भारी बारिश ने हालात और बिगड़ दिए हैंं। ऐसे में लोगों ने घरों की छतों पर पनाह ली हुई है। भारी बारिश को देखते हुए जिले में आज स्कूलों की छुट्टी घोषित कर दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here